योग स्थल बना धर्मशाला

धर्मशाला (एएनआई) | ANI| पुनः संशोधित मंगलवार, 5 जून 2007 (17:01 IST)
बुद्ध धर्म का एक महत्वपूर्ण केन्द्र माना जाने वाला स्थल धर्मशाला आजकल योग प्रशिक्षण के एक प्रमुख केन्द्र के रूप में भी अपना स्थान बना चुका है।

यहाँ पर स्थित मैक लिओदगंज, धर्मकोट और भगसुनाँग जैसे स्थल योग और ध्यान के एक प्रमुख स्थल बन चुके हैं। वहीं दूसरी ओर धर्मकोट का हिमालयन ईयानगर योग केन्द्र पिछले पाँच सालों से विदेशी पर्यटक यहाँ योग के प्रशिक्षण के लिए आते हैं।

जर्मनी से योग सीखने आए डिटमर के अनुसार मैंने पहले भी अपने देश में योग की यह विद्या सीखी है। मैं यहाँ पर अपने जीवन को और बेहतर ढंग से जीने की कला सीखने आया है।
वहीं दूसरी ओर कैनेडा से आईं लौरा के अनुसार योग सीखने के बाद अपने आप में मैं बहुत सा परिवर्तन महसूस कर रही हूँ। योग से हर तरह की समस्याओं से मुक्ति पाई जा सकती है। साथ ही हमने यहाँ सीखा कि किस तरह से शरीर का मस्तिष्क से जुड़ाव सम्भव है।

साथ ही यहाँ पर स्थित कई सारे योग केन्द्र ऑनलाइन पंजीकरण की भी व्यवस्था मुहैया कराते हैं। ये केंद्र विशेष अवसरों पर योग प्रशिक्षण हेतु विशेष प्रकार के पैकेज भी चलाते हैं।


और भी पढ़ें :